राहुल गांधी ने मोदी को चोरों का सरगना बताया

आईएनएन भारत डेस्क
राफेल पर हर बीतते दिन के साथ विवाद बढ़ता ही जा रहा है। फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के बयान के बाद तो यह साफ हों गया है कि राफेल आजाद भारत का सबसे बड़ा रक्षा घोटाला है। राफेल विवाद पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर सीधे निशाना साधते हुए मोदी को चोरों का सरगना तक कह डाला है। राहुल ने ट्विटर पर एक वीडियो को शेयर करते हुए मोदी को चोरों का सरगना (इंडियाज कमांडर इन थीफ) बता।

देश की संसद को राफेल पर कोई हिसाब नही देने वाली रक्षामंत्री और राफेल पर डील को सुरक्षा का मामला बताकर इसकी जानकारी साझा करने से बचने वाली भाजपा की मोदी सरेार ने अब राहुल और कांग्रेस के आरोपों पर कहा है कि हम यह लड़ाई लड़ेंगे। हम जगह-जगह जाकर लोगों को राफेल का सच बताएंगे। यह बयान रक्षामंत्री सीतारमण ने दिया है। कल तक सुरक्षा का हवाला देकर राफेल डील को संसद से भी छुपाने वाली रक्षामंत्री अब घर घर जाकर देश की जनता को डील का हिसाब देंगी।

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर कईं सवाल खडे करते हुए उनके जवाब मांगे हैं।

-राहुल द्वारा शेयर किए गए इस वीडियो में एक विदेशी फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति के बयान का जिक्र कर रहा है। इसके बाद अमेठी में राहुल ने कहा कि ओलांद ने मोदी को चोर बोला। अब मोदीजी को स्पष्टीकरण देना चाहिए कि उन्होंने ऐसा क्यों कहा?

-राहुल ने कहा कि जेटली हर रोज कहतें हैं सच्चाई, सच्चाई, सच्चाई…सरकार जेपीसी बैठाए। इससे सब सच बाहर आ जाएगा। मोदीजी बड़े बड़े भाषण देते हैं, पर राफेल और अनिल अंबानी के बारे में एक शब्द नहीं कहते। क्यों कि चैकीदार ने अनिल अंबानी से चोरी करवाई है।

-ओलांद ने शुक्रवार को कहा था कि फ्रांस के सामने रिलायंस को स्थानीय भागीदार के रूप में चुनने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। हमें सिर्फ रिलायंस डिफेंस का नाम दिया गया था।

ध्यान रहे, ओलांद ने ही सितंबर 2016 में हुई राफेल डील पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हस्ताक्षर किए थे।