सदी की सबसे बड़ी तबाही में डूबा केरल

अईएनएन भारत डेस्क
केरल सदी की सबसे बड़ी तबाही का गवाह बन रहा है। मूसलाधार बारिश और बाढ़ ने केरल के कईं जिलों का जीवन अस्त व्यस्त कर दिया है। इस बााढ़ की चपेट में आकर अभी तक 350 से अधिक लागे अपनी जान गंवा चुक हैं। देश-दुनिया से केरल में मदद आ रही है। जिसमें पैसे से लेकर खाने-पीने का सामान और घरेलू उपयोग की चीजों के साथ कपडे भी नेशनल आपदा प्रबंधन और राज्य आपदा प्रबंधन की टीमें रात दिन राहत कार्यों में लगी हैं।


पेरियार नदी के किनारे वाले जिले सबसे ज्यादा इस बाढ़ की चपेट में हैं। यदि जिलों की बात करें तो मल्लापुरम, वायनाड, अल्लेपी, पथनामथिट्टा, ऐर्णाकुल्लम आदि जिले इस बाढ़ की सबसे ज्यादा चपेट में आने वाले जिलों में शामिल हैं। कोचीन एयरपोर्ट बाढ़ के पानी में डूबने से बंद कर दिया गया है तो वहीं कोचीन की मेट्रो ट्रेन भी बंद कर दी गई हैं। अभी दस लाख से ज्यादा लोगों ने राह शिविरों में शरण ली और अभी राहत शिविरों में लोगों का आना जारी है।
केरल में बाढ़ और आपदा की कुछ तस्वीरें: