क्या दिल्ली पुलिस केजरीवाल को फंसाना चाहती है?

आईएनएन भारत डेस्क

सोमवार को दिल्ली पुलिस ने दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी अंशु प्रकाश के साथ मारपीट के मामले में चार्जशीट दायर कर दी। ध्यान रहे कि दिल्ली पुलिस अंशु प्रकाश के साथ हुए मारपीट मामले में काफी समय से जांच कर रही थी।

एक समाचार एजेंसी के हवाले से प्राप्त समाचार के अनुसार दिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी के 11 विधायकों के साथ ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया को भी आरोपी बनाया है।

जैसा कि विदित है कि अंशु प्रकाश को मख्यमंत्री केजरीवाल के आदेश पर ही आधी रात के समय मुख्यमंत्री आवास पर मीटिंग के लिए बुलाया गया था। जहां कथित तौर पर उनके साथ मारपीट होने की बात अंशु प्रकाश और विपक्षी दल भाजपा द्वारा कही गयी थी। भाजपा ने इस मसले को जोर शोर के उठाया था।

अब कोर्ट ने पुलिस द्वारा दायर चार्जशीट पर सुनवाई की अगली तारीख 25 अगस्त तय की है। इस दिन इस मामले में अगली सुनवाई होगी और संभवत आरोप भी तय होने की प्रक्रिया शुरू हो सके। परंतु जैसी चार्जशीट दिल्ली पुलिस ने दायर की है उससे आप कार्यकर्ताओं में गुस्सा है और उनका मानना है कि दिल्ली पुलिस केन्द्र के इशारे पर दिल्ली के मुख्यमंत्री को फंसाने की साजिश कर रही है।