जेएनयू छात्र उमर खालिद पर संसद के करीब अति सुरक्षित क्षेत्र में गोली चली

आईएनएन भारत डेस्क

सुरक्षा की दृष्टि से दिल्ली के अति संवेदनशील क्षेत्र में और संसद से महज कुछ मीटर की दूरी पर कंस्टिट्यूशन क्लब के सामने जेएनयू के छात्र उमर खालिद पर गोली चली और हमलावर इस अति सुरक्षित वीआईपी जोन से आसानी से फरार हो गया। हालांकि इस हमले में उमर पूरी तरह से सुरक्षित बच गये हैं।

बताया जाता है कि उमर खालिद यहां कंस्टिट्यूशन क्लब में एक कार्यक्रम ‘‘खौफ से आजादी‘‘ में हिस्सा लेने आये थे। इस कार्यक्रम का आयोजन ‘‘यूनाईटेड अगेंस्ट हेट‘‘ नामक संगठन के बैनर तले किया गया था।

उमर खालिद जेएनयू में देश विरोधी नारों को लगाये जाने वाली घटना के बाद चर्चा में आये थे। उमर जेएनयू में आयोजित उस कार्यक्रम के आयोजकों में से एक थे, जिसे लेकर उन पर और कन्हैया सहित कईं अन्यों पर देशद्रोह का केस दर्ज किया गया था। ध्यान रहे कि दिल्ली पुलिस आजतक इस मामले में चार्जशाीट दाखिल नही कर पायी है और नारे लगाकर गायब हो जाने वाले लोगों की भी पहचान नही कर पायी है।

उमर खालिद उस घटना के बाद से ही लगातार भगवा आतंकवाद के निशाने पर थे। जिस कारण से आज उन पर किसी अज्ञात व्यक्ति ने गोली चलाई और फिर हवा में फायर करते हुए उक्त व्यक्ति वहां से फरार हो गया। बाद ने पुलिस ने वह पिस्तोल बरामद कर ली बतायी जाती है जिससे उमर पर गोली चलाई गई थी।
उमर खालिद पर इस हमले की कन्हैया, शेहला समेत सभी छात्र नेताओं और देश के राजनेताओं ने कड़ी निन्दा की है। घटना के बाद उमर ने इस घटना पर टिप्पणी करते हुए कहा कि ‘‘यह उन लोगो की हरकत है जो ऐसे किसी भी व्यक्ति को सहन नही करना चाहते हैं जो मौजूदा मोदी सरकार की आलोचना करता है‘‘।