डीडीए ने लांच किया शिकायत एप, लोगों ने उठाये डीडीए की नीयत और भ्रष्टाचार पर सवाल

आईएनएन भारत डेस्क
डीडीए ने कुछ समय पहले दिल्ली में होने वाले अवैध निर्माण, अतिक्रमण और अन्य प्रकार की अवैध गतिविधियों पर रोक लगाने के लिए स्पेशल टाॅस्क फोर्स (एसटीएफ) का गठन किया था। इस एसटीएफ को प्रभावी बनाने के लिए एक डीडीए द्वारा एक शिकायत एप लांच करने की घोषण की गई थी। जिसके बारे में जून के पहले सप्ताह में विभिन्न समाचार पत्रों में फुल साइज के विज्ञापनों पर भी लाखों रूपये डीडीए ने खर्च किये थे। अब शिकायत एप लांच करने की जैसे ही डीडीए ने घोषणा की है तो लोगों ने डीडीए में फैले भ्रष्टाचार पर जमकर हमला बोल दिया है।

ट्वीटर पर विभिन्न लोगों ने साफ कहा है कि डीडीए को अधिक शिकायतें मतलब अधिक घूसखोरी। अब डीडीए अधिकारियों के तो अच्छे दिन आ गये हैं।

कुछ लोगों ने डीडीए के रिपोर्ट पर कार्रवाई को लेकर सवाल खडे किये कि क्या डीडीए कार्रवाई करेगा। उनका कहना है कि डीडीए तो आरटीआई का भी जवाब नही देता है। यहां तक कि अपीलय अधिकारी भी अपील को रखकर सो जाते हैं।

कुछ लोगों ने इस एप का स्वागत किया है परंतु डीडीए की पारदर्शिता पर सवाल जरूर खडे किये हैं। उन्होंने प्राप्त सारी शिकायतों और उन पर कार्रवाई को वेबसाइट पर डालने और जनता द्वारा जज किये जाने की सलाह दी है।

कुछेक ने शिकायतों पर कडी कार्रवाई की आशा व्यक्त करते हुए कहा है कि इस प्रक्रिया को समयबद्ध बनाया जाये। तभी यह प्रभावी हो सकती है।