देहरादून में योग दिवस पर विरोध करने वालों से नही मिले मोदी, विरोध पर विभिन्न दलों के नेता कार्यकर्ता गिरफ्तार

आईएनएन भारत डेस्क
उत्तराखंड को वनवासी प्रदेश घोषित करने समेत विभिन्न मांगों को लेकर एफआरआई में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ज्ञापन देने जा रहे सर्वदलीय संगठन से जुड़े लोगों को पुलिस ने घंटाघर के पास से गिरफ्तार कर लिया। इनमें पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के साथ ही विभिन्न राजनैतिक दलों और संगठनों के कार्यकर्ता शामिल थे।

गुरुवार सुबह साढ़े पांच बजे वन अधिकार आंदोलन के बैनर तले सर्वदलीय संगठन से जुड़े लोग गांधी पार्क में एकत्र हुए। पार्क में स्थित गांधीजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इसके बाद एफआरआई में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ज्ञापन देने के लिए रैली निकली गई। घंटाघर पर तैनात पुलिस ने सभी को वहीं रोक लिया। कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट ने कहा कि सरकार योग के नाम पर खर्चा कर रही है, जबकि आम लोगों की जरूरतों की तरफ ध्यान नहीं दिया जा रहा है। .

भाकपा के राज्य सचिव समर भंडारी ने कहा कि प्रदेश के विकास को ध्यान में रखा जाना चाहिए। समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सत्यनारायण सचान ने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार जनहितों को ध्यान में नही रख रही है, महंगाई दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। रैली में सुशील राठी, राजीव जैन, अमरजीत सिंह, आरपी रतूड़ी, प्रेम उत्तराखंडी, प्रताप मल्ल, कमलेश रमन, जसवीर, मथुरा दत्त जोशी, शंकर गोपाल, प्रेम बहुखंडी, संजय भट्ट, गोपाल शंकर, जय प्रकाश उत्तराखंडी भी मौजूद रहे।

योग कार्यक्रम में महिला की मौत

एफआरआई में पीएम नरेंद्र मोदी के योग कार्यक्रम में शामिल होने पहुंची महिला की मौत हो गई।
एफआरआई में हुए योग कार्यक्रम में 50 हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए। सुबह चार बजे से ही प्रवेश गेट पर लोगों की लंबी लाइन लगी रही है। इंस्पेक्टर कैंट शंकर सिंह बिष्ट ने बताया कि सुबह करीब पांच योग के लिए प्रवेश गेट पर लाइन में इंदिरा नगर निवासी सुधा मिश्रा (72) पत्नी चंद्र मोहन भी लगी थी। इस दौरान अचानक चक्कर खाकर वह जमीन पर गिर गई। उन्हें गिरता देख आसपास हड़कंप मच गया।
अस्पताल में उपचार के दौरान चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस महिला की मौत का शुरुआती कारण हार्ट अटैक मान रही है।

योग दिवस की ड्यूटी में कांस्टेबल बेहोश

एफआरआई में हुए योग दिवस कार्यक्रम के दौरान ड्यूटी पर तैनात एक महिला कांस्टेबल बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ीं। उन्हें तुरंत एंबुलेंस से दून अस्पताल के सेफ हाउस में भर्ती कराया गया। जहां उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। .

दून अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डा. केसी पंत ने बताया कि महिला कांस्टेबल को इलाज के बाद राहत मिल गई थी। वहीं, बुधवार दोपहर दो बजे भी योग दिवस की तैयारियों में लगे एक कर्मचारी को सांप ने काट लिया था। हालांकि कर्मचारी ठीक है। उधर, कार्यक्रम में कुछ लोगों को मधुमक्खी ने भी काट लिया था।