केजरीवाल का नौ दिन चला धरना खत्म, उप राज्यपाल ने पत्र लिखकर दी सलाह, मिलने की भी जहमत नही उठाई

आईएनएन भारत डेस्क

विवेकानन्द फाउंडेशन के पूर्व कार्यकारिणी सदस्य और दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल का पत्र मिलने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने नौ दिनों तक चला अपना धरना आखिर खत्म कर दिया। बताया जाता है कि दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने केजरीवाल को पत्र लिखकर आईएएस अधिकारियों से मुलाकात करने के लिए बुलाया है।

ध्यान रहे कि अरविंद केजरीवाल अपने सहयोगी मंत्रियों के साथ 9 दिनों से उप राज्यपाल आवास पर धरने पर बैठे थे। अब एलजी ने केजरीवाल को पत्र लिखकर कहा है कि वह सचिवालय में अधिकारियों से मिलकर बात करें ताकि दिल्ली की जनता की भलाई के लिए किसी फैसले पर पहुंचा जा सके। अरविंद केजरीवाल पिछले 9 दिनों से एलजी आवास के वेटिंग रूम में मौजूद थे। दूसरी तरफ अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद मनीष सिसोदिया पहले ही काम संभाल चुके हैं।

राजनिवास ने प्रेस रिलीज करके बताया है कि उपराज्यपाल ने केजरीवाल को कहा है कि वह आईएएस अधिकारियों और सरकार के बीच विश्वास बढ़ाने की कोशिश करें। एलजी ने लिखा है कि सीएम ने ट्वीट करके अधिकारियों को काम पर लौटने की अपील की है।

 

अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को ट्विटर के जरिए पीएम मोदी की चुप्पी पर सवाल उठाया था। हालांकि चार मुख्यमंत्रियों के केजरीवाल के समर्थन में उतरने और पीएम की इस मामले में चुप्पी को लेकर सवाल उठाने के बाद से ही मोदी सरकार पर दबाव बनने लगा था। परंतु उसके बाद भी विवेकानन्द फाउंडेशन के पूर्व कार्यकारिणी सदस्य और दिल्ली के माननीय उप राज्यपाल अनिल बैजल ने केजरीवाल से मिलने की बजाये उन्हें पत्र लिखकर ही उनका धरना समाप्त करवाने की औपचारिकता पूरी कर डाली। इसके पहले केजरीवाल ने अपने ट्वीट में लिखा था कि हमने माननीय उपराज्यपाल को चिट्ठी लिखी और मीटिंग की दरख्वास्त की। हम उपराज्यपाल के जवाब का इंतजार कर रहे हैं। माननीय उपराज्यपाल माननीय पीएम के ग्रीन सिग्नल का इंतजार कर रहे हैं, जिन्हें फैसला लेना है। पूरी दिल्ली माननीय पीएम के फैसले का इंतजार कर रहे हैं।