यूपी के मंत्रियों के सामने ही महिलाओं ने भाजपा नेता को दौड़ा दौड़ाकर पीटा

आईएनएन भारत डेस्क

अमरोहाः विकास विकास का गीत गाने और भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने की कोशिश अब भाजपा नेताओं के लिए मुसीबत बनती जा रही है। जुमलेबाजी और झूठ से परेशान जनता की नाराजगी और गुस्सा इस कदर बढ़ चुका है कि अब वो विकास का झूठ सुनते ही भाजपा नेताओं को दौड़ा दौड़ाकर पीटने पर उतारू हो जाता है। ताजा मामला देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्र्रदेश का है जहां यूपी सरकार के दो मंत्रियों ओम प्रकाश राजभर और चेतन चैहान के सामने ही अमरोहा मुख्यालय पर महिलाओं ने एक भाजपा नेता मदन वर्मा को दौड़ा दौड़ाकर पीटा।

यूपी के दोनों मंत्री जिला योजना समिति की बैठक करने के लिए अमरोहा जिला मुख्यालय पर आये थे। वहीं बड़ी संख्या में महिलाएं राशन वितरण में धांधली की शिकायत लेकर मंत्रियों से मिलने पहुंच गई। महिलाओं ने मंत्रियो से मिलने की मांग की। अधिकारियों ने उन्हें बैठक के बाद मिलाने का आश्वासन दिया तो वे महिलाएं वहीं धरने पर बैठ गयी और राशन डीलरों का विरोध करने लगी। उसी समय भाजपा नेताओं ने राशन डीलरों की तरफदारी शुरू कर दी और नकारने लगे कि कहीं कोई धांधली नही है। इस से नाराज होकर महिलाओं ने भाजपा नेता मदन वर्मा को पकड़ लिया और जिला मुख्यालय में दौड़ा दौड़ाकर पीटा।
उसके बाद जब भाजपा जिलाध्यक्ष नागर से मदन वर्मा के बारे में पूछा गया तो उन्होंने मदन वर्मा से किनारा कर लिया और कहा कि मदन वर्मा उनके कोई पदाधिकारी नही हैं। वह एक साधारण भाजपा कार्यकर्ता हैं। जब पत्रकारों और वहां मौजूद लोगों ने इस साधारण कार्यकर्ता के असाधारण कामों के बारे में पूछा गया तो जिलाध्यक्ष ने खांटी नेताओं की तरह आश्वासन दिया कि आरोपों की जांच होगी।

बहरहाल, अभी यह शरूआत है और आगे आगे देखिये होता है क्या। अभी यह मामला भाजपा के स्थानीय नेताओं का है यदि जुमलेबाजी और भ्रष्टाचार का यही हाल रहा तो वह दिन दूर नही जब चुने हुए प्रतिनिधियों को भी जनता द्वारा ऐसे ही दौड़ाकर पीटा जायेगा। वैसे इस पूरे मामले के बाद मंत्री भी चुपचाप घटनास्थल से सरक लिये थे।