दिल्ली के प्राइवेट स्कूलों को ब्याज सहित वापस देनी होगी बढ़ी हुई फीस, देखें स्कूलों की सूची

आईएनएन भारत डेस्क
दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार दिल्ली के 575 प्राइवेट स्कूलों को छठे वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करने का हवाला देते अभिभावकों से ली गई फीस बढ़ी हुई फीस वापस करने का निर्देश दिया है।
इसके साथ ही दिल्ली सरकार ने स्कूलों को जून 2016 से जनवरी 2018 तक बढ़ाकर वसूली गई फीस 9 प्रतिशत ब्याज के साथ लौटाने का निर्देश दिया है।

आप सरकार का यह फैसला दिल्ली हाई कोर्ट द्वारा गठित एक समिति की रिपोर्ट के बाद आया है। हाई कोर्ट ने उक्त समिति का गठन छठे वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करने के संबंध में निजी स्कूलों के रिकॉर्ड की जांच करने के लिए किया था। समिति ने अभी तक शहर में 1169 स्कूलों की आॅडिट की है।

शिक्षा निदेशालय के एक आदेश में कहा गया है कि समिति ने अपनी रिपोर्ट में 575 स्कूलों की पहचान की थी कि वे वसूली गई बढ़ी फीस 9 प्रतिशत ब्याज के साथ अभिभावकों को लौटा दें। अब दिल्ली की आप सरकार ने स्कूलों को निर्देश दिया है कि वे सात दिन के भीतर फीस वापस करें और यदि कोई वेतन बकाया है तो उसका भुगतान सुनिश्चित करें। इस आदेश में कहा गया है कि आदेश का अनुपालन नहीं करने को गंभीरता से लिया जाएगा और दोषी स्कूलों के खिलाफ दिल्ली स्कूल शिक्षा कानून, 1973 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

दिल्ली सरकार द्वारा जारी की गई 575 स्कूलों की सूची नीचे संलग्न हैः