भाजपा नेता ने नौकरी दिलाने का झांसा देकर किया बलात्कार का प्रयास, रंगे हाथ धरा गया

आईएनएन भारत डेस्क
सिगरा पुलिस ने बलात्कार के आरोप में भाजपा भदोही के पूर्व जिलाध्यक्ष को गिरफ्तार किया। बीजेपी भदोही के पूर्व जिलाध्यक्ष कन्हैया लाल मिश्रा सुबह एक महिला के साथ बनारस पहुंचे। वहां इंग्लिशिया लाइन स्थिति अन्य भाजपा सभासद के लॉज पर पहुंचे और कन्हैया लाल मिश्रा ने एक रुम बुक कराया। रूम बुक कराते समय अपना पहचान पत्र दिया और साथ आयी महिला को अपनी बेटी बताया। इसके बाद दोनों रुम में चले गये। इस लॉज में पहले भी कई बार पूर्व जिलाध्यक्ष आ चुके थे इसलिए उनके साथ आयी महिला पर लोगों ने ध्यान नहीं दिया।

थोड़ी देर बाद रूम से महिला के चिल्लाने की आवाज आने लगी। महिला के चिल्लाने की आवाज अगल-बगल कमरे में रह रहे लोगों ने सुनी। अगल- बगल के कमरे के लोगों ने इस बात की सूचना लॉज के मैनेजेर को दी। मैनेजर ने तुरंत ही सिगरा पुलिस को फोन करके सारी जानकारी दी। मौके पर पहुंची सिगरा पुलिस ने बीजेपी भदोही के पूर्व जिलाध्यक्ष को रंगेहाथ पकड़ लिया। इसके बाद महिला की तहरीर पर पुलिस ने रेप का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

सिगरा एसएचओ सतीश सिंह का कहना है कि महिला की तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जा रही है। महिला का मेडिकल कराया जा रहा है और पूर्व जिलाध्यक्ष के खिलाफ रेप एंव अन्य धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है जिसके अनुसार ही सारी कार्रवाई की जा रही है।

पूर्व जिलाध्यक्ष ने दिया था नौकरी दिलाने का झांसा
आरोप है कि बीजेपी भदोही के पूर्व जिलाध्यक्ष ने महिला को नौकरी दिलाने का झांसा दिया था और नौकरी के सिलसिले में ही बनारस (वाराणसी) लेकर आया था। कन्हैया लाल मिश्रा, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा. महेन्द्रनाथ पांडेय के कभी करीबी रहे हैं। फिर भी भदोही के पूर्व जिलाध्यक्ष कन्हैया लाल मिश्रा अब रेप के आरोप में बुरी तरह फंस चुुके हैं। और उन्हें सिगरा पुलिस ने मौके पर ही रंगे हाथों पकड़ा हैं।