वकीलों के विरोध और आईएनएन भारत की खबर का असर, ससम्मान वापस लगी डाॅ. अंबेडकर की तस्वीर

आईएनएन भारत डेस्क
रोहिणी कोर्ट परिसर की लाइब्रेरी में से बार अध्यक्ष द्वारा हटाई गई डाॅ. अंबेडकर की तस्वीर फिर से लाइब्रेरी में ससम्मान लगा दी गई है। यह कुछ जागरूक वकीलों के त्वरित प्रतिरोध और आईएनएन भारत की खबर का असर है कि 24 घण्टें के भीतर ही बाबासाहेब की तस्वीर को ससम्मान वापस उसके स्थान पर फिर से लगा दिया गया।

बता दें कि बार अध्यक्ष महावीर शर्मा के द्वारा इस तस्वीर को लाइब्रेरी से हटा देने के बाद जोरदार तरीके से कोर्ट के कुछ वकीलों ने बार अध्यक्ष के कृत्य का विरोध किया था। इसके बाद 16 मई को सुबह 10 बजे वकील कांफ्रेंस हाल के सामने एकत्र हुए और बार अध्यक्ष के कृत्य का विरोध शुरू किया। बार अध्यक्ष ने बिना शर्त माफी मांगते हुए बाबासाहेब की तस्वीर को फिर से अपनी जगह स्थापित किया और उस पर माल्यार्पण भी किया।

यह रोहिणी कोर्ट के वकीलों और आईएनएन भारत की खबर का असर है कि 24 घण्टें के भीतर ही बार अध्यक्ष को बिना शर्त माफी मांगकर डाॅ. अंबेडकर की तस्वीर को वापस लगाना पड़ा।
इस पूरी मुहिम का नेतृत्व करने वाले वकीलों में सर्वश्री शमशेर सिंह, राहुल वर्मा, नरेन्द्र कुमार, दिवान सिंह, कमलेश कुमार, नरेश बंसल और सताक्षी आदि वकील शामिल थे। इन वकीलों के विरोध के बाद महावीर शर्मा ने उपरोक्त वकीलों के साथ मीटिंग करके अपने कृत्य की माफी मांगी और बड़ी संख्या में मौजूद वकीलों के सामने डाॅ. अंबेडकर की तस्वीर को लगाया।