लालू यादव दिल्ली एम्स आने पर सहमत, एक दो दिन में लाये जा सकते हैं दिल्ली

आईएनएन भारत डेस्क:
रांचीः रिम्स में भर्ती बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने इलाज के लिए दिल्ली के एम्स आने पर सहमति दे दी है। हालांकि रिम्स के डाक्टरों ने पहले ही उन्हें दिल्ली ले जाने की सिफारिश कर दी थी परंतु राजद प्रमुख लालू यादव दिल्ली एम्स नही जाने पर अड़ गये थे और सोमवार को ही एक अखबार ने खबर छापी थी कि लालू दिल्ली नही आने पर अड़ गये है। बता दें उन्होंने और उनके परिवार ने दिल्ली में लालू यादव की जान को खतरा बताया था। यहां तक कि लालू यादव ने यह कहकर इंसुलिन लेने से भी इंकार कर दिया था कि उन्हें धीमा जहर दिया जा सकता है।

परंतु उनकी देखरेख कर रही डाक्टरों की टीम के समझाने पर अब पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव दिल्ली आने पर सहमत हो गये हैं। बताया जाता है कि उनका शुगर लेवल काफी बढ़ा हुआ है और यह कंट्रोल में भी नही आ रहा है जिससे लालू यादव के चेहरे पर कुछ सुजन भी आ गई थी। अब उनको इस बात की इजाजत मंगलवार को मिल गयी है। बता दें कि जेल प्रशासन ने आवेदन दाखिल कर लालू को एम्स भेजने का अनुरोध पहले से ही कर दिया था।

सोमवार को प्रोफेसर डॉ उमेश प्रसाद, एसोसिएट प्रोफेसर डॉ डी के झा व डॉ मिंज रूटीन परामर्श के लिए राजद प्रमुख लालू यादव के पास गये। डॉक्टरों ने अनियंत्रित शुगर लेवल को देखते हुए लालू को इंसुलिन लेने की बात कही, जिस पर लालू तैयार नहीं हुए थे।

सर्जरी विभाग से डॉ मृत्युंजय सरावगी ने भी लालू को पेरियेनल इन्फेक्शन के कारण हुए घाव को देखा और आवश्यक निर्देश दिये हैं। ज्ञात हो कि लालू प्रसाद यादव दस प्रकार की बीमारियों से पीड़ित हैं, जिन सबका इलाज रिम्स में किया जाना आसान नही है।

खाने में लालू यादव को सोमवार को खिचड़ी, दही व सलाद दिया गया। दही उन्हें पसंद है। इसलिए उसकी मात्रा बढ़ा दी गयी है। सुबह के नाश्ता में मिलने वाला दूध व अंडा उन्हें पसंद नहीं आ रहा है, इसलिए वह इसे लेने से इंकार कर रहे हैं।