क्या भाजपा बसपा सुप्रीमों मायावती कोे मरवाना चाहती है?

आईएनएन भारत डेस्क
युपी में राज्यसभा में बसपा उम्मीदवार की हार पर बोलते हुए मायावती ने भाजपा पर एकबार निशाना सााधते हुए पूछा कि क्या भाजपा मुझे मरवाना चााहती है। उन्होंने गेस्ट हाउस कांड को याद करते हुए कहा कि भाजपा बार बार गेस्ट हाउस कांड का हवाला दे रही है। परंतु उसी भाजपा ने गेस्ट हाउस कांड में मुझे मारने की साजिश में शामिल पुलिसकर्मियों को तरक्की देकर सूबे में उंचे पदों पर बैठा दिया है तो क्या भाजपा मुझे मरवाना चाहती है। उन्होंने यह भी कहा कि जब गेस्ट हाउस कांड हुआ उस समय अखिलेश का राजनीति से कोई लेना देना भी नही था।

मायावती बसपा-सपा गठबंधन पर बोल रही थी। उन्होंने कहा कि भाजपा की कारस्तानी बसपा-सपा गठबंधन को तोड़ नही पायेगी। मायावती ने भाजपा की तिकडमों से हुई बसपा उम्मीदवार की हार पर विस्तार से बोला।

उन्होंने कहा कि बसपा-सपा गठबंधन के बाद और उप चुनावों में हार के बाद भी भाजपा बाज नही आई और उसने पूरे प्रशासन को बसपा उम्मीदवार को हराने में लगा दिया। बसपा प्रमुख ने नरेन्द्र मोदी और अमित शााह की जोड़ी पर पूरे प्रशासन को अपनी गिरफ्त में लेने का आरोप भी लगाया।

बसपा प्रमुख मायावती ने दावा किया कि भाजपा चाहे कितनी ही कोशिशें कर ले वह सपा-बसपा गठबंधन को हिला नही पायेगी। उनकी करतूतों से सपा-बसपा गठबंधन पर एक इंच भी अंतर नही पड़ेगा।

उन्होंने यह भी कहा कि गोरखपुर और फूलपुर की हार की शर्मिंदगी को भाजपा इस तिकड़मी जीत से कम नही कर पायेगी। भाजपा इस बात को जानती है और इसी लिए वह अपनी हरकतों से बाज नही आ रही है।