PU छात्रसंघ अध्यक्ष, उपाध्यक्ष का चुनाव रद्द, ABVP को लगा तगड़ा झटका

आईएनएन भारत डेस्क:
पटना, बिहार: पटना यूनिवर्सिटी में बीते दिनो हुए छात्रसंघ चुनाव में एबीवीपी ने परचम लहराते हुए उपाध्यक्ष का चुनाव जीता था, जबकि अध्यक्ष पद पर एबीवीपी छोड़ कर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे दिव्यांशु भारद्वाज ने चुनाव जीता था, दिव्यांशु के बारे में बताया जा रहा था कि ये एबीवीपी का ही कैडर है। दिखावे के लिए संगठन छोड़ा था। जबकि चुनाव में अन्दर खाने एबीवीपी के कार्यकर्ता  दिव्यांशु को चुनाव जीताने के लिए वोट मांग रहे थे। 

आपको बता दे कि पटना यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ चुनाव की गिनती के दौरान ही धांधली का आरोप लगे थे, जो नतीजे घोषित होने के बाद से विवाद और भी बढ़ता जा रहा था। यूनिवर्सिटी के छात्र दोनों विजेताओं के निर्वाचन पर उंगली उठा रहे थे।

छात्रों का आरोप था कि अध्यक्ष पद पर एबीवीपी के सहयोग से निर्वाचित दिव्यांशु भारद्वाज ने स्नातक का फर्जी सर्टिफिकेट जमा कर मास्टर डिग्री में एडमिशन लिया हैं। जिसकी जांच होनी चाहिए।

वही एबीवीपी से उपाध्यक्ष पद का चुनाव जीती योशिता पटवर्धन ने छात्रसंघ चुनाव लड़ने का मापदंड पूरा नहीं करने के बाबजूद, निर्वाचन अधिकारियों को गलत जानकारी देते हुए एफिडेविट जमा किया था।

नियम के अनुसार चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी को प्रीवियस ईयर परीक्षा में पास होना जरुरी है। मगर योशिता दोनों ऑनर्स पेपर में ही फेल है। विश्वविद्यालय चुनाव अधिकारियों ने बिना ठीक से जाँच किये ही नामांकन पत्र सही घोषित कर चुनाव लड़ने दिया और योशित को चुनाव अधिकारी ने विजेता भी घोषित कर दिया था।

जब यूनिवर्सिटी के छात्रों ने इस बात का जमकर विरोध किया तो यूनिवर्सिटी प्रशासन ने निर्वाचित सदस्यों की जांच के लिए कमेटी गठित कर दी। गठित कमेटी की जांच में अध्यक्ष दिव्यांशु भारद्वाज और उपाध्यक्ष योशिता पटवर्धन अयोग्य पाए गए। जिससे उनकी सदस्यता रद्द की जा रही है। पटना यूनिवर्सिटी में माहौल काफी तनावपूर्ण बना हुआ है, जिसको देखते हुए यूनिवर्सिटी कैंपस में भारी पुलिसबल तैनात किया गया है।