सीलिंग से दिल्ली पस्त, नेता विदेश में मस्त

आईएनएन भारत डेस्क:
नई दिल्लीः दिल्ली में जारी सीलिंग के खिलाफ 13 मार्च 2018 को दिल्ली के व्यापारियों ने बंद रखा। व्यापारी संगठनों के आहवान पर बुलाये गये इस बंद में दिल्ली के अधिकतर प्रमुख बाजार बंद रहे। व्यापार संगठनों की माने तो दिल्ली के इस बंद में 7 लाख के करीब दुकानदारों ने भाग लेकर इस बंद को सफल बनाया।

दिल्ली में बंद का आयोजन कई दिनों से सीलिंग से परेशान व्यापारियों के संगठन के आहवान पर किया गया था। इस दौरान ज्ञात हुआ है कि व्यापारियों के एक संगठन का एक प्रतिनिधिमंडल देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह से भी मिला। जिन्होंने उन्हें पूरे मामले को दिल्ली के उप राज्यपाल के समक्ष ले जाने का सुझाव दिया है।

एक तरफ सीलिंग की गाज से परेशान व्यापारी बंद का आयोजन कर रहे हैं तो दूसरी तरफ इस सवाल पर राजनीति भी तेज हो गयी है। आप की दिल्ली सरकार का कहना है कि केन्द्र और नगर निगम दोनों जगह पर भाजपा का कब्जा है और भाजपा चाहे तो विधेयक लाकर एक दिन में सीलिंग बंद कर सकती है। दूसरी तरफ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी सीलिंग का ठिकरा आप सरकार पर फोडते हुए स्वयं को व्यापारियों के सच्चे हितेषी सिद्ध करने की कोशिश करते हैं।

परंतु जब दिल्ली में सीलिंग शहर के व्यापारियों का रोजगार उजाड़ने पर अमादा है और व्यापारी सीलिंग के खिलाफ आंदोलनरत हैं और वो अपने जीवन के सबसे कठिन समय से गुजर रहे हैं तो भाजपा अध्यक्ष विदेश दौरे पर चले गयें हैं। इसे लेकर दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने भाजपा अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए टिवीट कर डाला कि दिल्ली के व्यापारी परेशान हैं और भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी विदेश घूम रहे हैं। हालांकि उनके टिवीट के जवाब में भक्तों ने जवाबी हमला बोल दिया है। परंतु यह तो दिखाई पड़ ही रहा है कि सीलिंग से दिल्ली पस्त, नेताजी विदेश में मस्त।