जामिया की मानविकी एवं भाषा संकाय टीम ने बास्केटबाल के बाद क्रिकेट टूनामेंट में भी कायम किया दबदबा

आईएनएन भारत डेस्क:
नई दिल्ली। जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के मानविकी एवं भाषा संकाय ने बास्केटबाल टूनामेंट में दबदबा कायम करते हुए ख़िताब अपने नाम किया है।

जामिया मिल्लिया इस्लामिया में चल रहे इंटर फैकल्टी क्रिकेट टूर्नामेन्ट में आज मानविकी एवं भाषा संकाय के खिलाड़यों ने अपने प्रतिद्वंदी टीम आर्किटेक्चर को 84 रनों से करारी शिकस्त देकर सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली। टॉस जीतकर मानविकी एवं भाषा संकाय टीम के कप्तान शादाब अहमद ने पहले बल्लेबाजी करते हुए आर्किटेक्चर को जीत के लिए 117 रनों  का लक्ष्य दिया। गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन से मानविकी एवं भाषा संकाय ने आर्किटेक्चर को केवल 32 रनो पर समेट दिया। इस क्रिकेट टूर्नामेन्ट में मानविकी एवं भाषा संकाय की टीम की यह लगातार दूसरी जीत है।

आज खिलाड़यों ने लगभग हर क्षेत्र में अपना बेहतरीन प्रदर्शन किया। अजय टोकस,अब्दुल, वाहिद, यूसुफ और कामरान ने बढ़िया बल्लेबाज़ी की। वही गेंदबाज़ी में हमजा और साहिल ने प्रतिद्वन्दी टीम के छक्के छुड़ाते हुए उन्हें केवल 32 रनो पर समेट दिया।स्पोर्ट्स के डायरेक्टर प्रोफेसर इक़्तेदार मोहम्मद खान के सराहनीय योगदान से इंटर फैकल्टी टूर्नामेन्ट इन दिनों अपने खिलाड़यों को बेहतरीन मौका दे रहा है। डायरेक्टर ने बताया कि हमारे वी.सी. प्रोफेसर तलत अहमदअकादमिक गतविधियों के अलावा खेल के मैदान में भीअपने विश्विद्यालय को लगातार उंचाईयों पर ले जा रहे है।

मानविकी एंव भाषा संकाय के प्रोफ़ेसर डॉक्टर आसिफ उमर ने कहा कि बच्चों को पढाई के साथ साथ खेल कूद में भी आगे बढ़ना चाहिए। खेल कूद से इंसान का शारीरिक विकास तो होता ही है साथ में मानसिक तनाव भी कम होता है। जामिया के वीसी तलत अहमद साहब ने बच्चों के शिक्षा के साथ साथ खेल के मैदान में भी उनकी प्रतिभा निखार रहे हैं। डॉक्टर आसिफ उमर ने आगे बताया कि छात्रों के जीवन में शिक्षा के साथ खेल भी बहुत जरुरी हैं। मानविकी एवं भाषा संकाय और आर्किटेक्चर के खिलाड़ियों की तारीफ़ करते हुए कहा कि दोनों टीमों ने बहुत बढ़िया प्रदर्शन किया हैं। मेरी शुभकामनाएं हैं विजेता टीम के साथ हैं।