बिहार में बढ़ते सामंती गुंडागर्दी और साम्प्रदायिक हमला के खिलाफ राजद का कैंडल मार्च

आईएनएन भारत डेस्क:
पश्चिम चंपारण (बिहार)। देश और राज्य के विभिन्न हिस्सों में पिछड़ो, अति पिछड़ो, दलितों और अल्पसंखियकों के ऊपर हो रहे सामंती गुंडागर्दी, साम्प्रदायिक हमला व पुलिसिया दमन के विरुद्ध तथा इन घटनाओं में अपनी जीवन गवां चुके नवजवानों की याद में शांति सभा और कैण्डल मार्च निकाला गया। इस मार्च का नेतृत्व विनय यादव ने किया।
सभा की अध्यक्षता राष्ट्रीय जनता दल (किसान सेल) के अध्यक्ष श्री विनय यादव ने की। श्री यादव ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि देश के विभिन्न हिस्सों में दलितों, पिछड़ो ,अल्पसंखियकों के खिलाफ़ मोदी सरकार  के शासनकाल में लगातार हो रहे हैं।इन हमलों में इजाफा ही आया है। चाहे भीमा-कोरेगांव में दलितों की हत्या, नोएडा में जितेंद्र की फर्जी एनकाउंटर में हत्या, कासगंज में सम्प्रदायिकता के बाली चढ़े नौजवान, पूर्णिया(बिहार) में बच्चे की नृशंस हत्या हो या फिर छपरा में पुलिसिया तांडव, इस तरह की घटनाओं से बिहार ही नही पूरे देश मे भय का माहौल हैं। नीतीश सरकार भी मोदी सरकार की तरह भय का माहौल बनाकर पिछड़ो, अति पिछड़ो, दलितों और अल्पसंखियकों को डरा रही हैं। 

इस सभा मे आगे कहा कि ऐसे बिषम परिस्थिति में राजद के कार्यकर्ता श्री लालू प्रसाद यादव के विचारों को जान-जान तक पहुचाएंगे। राजद के एक-एक कार्यकर्ता पिछड़ो, अति पिछड़ो, दलितों, अल्पसंखियकों और समाज के कमजोर वर्गों के मान-सम्मान व इनके संवैधानिक अधिकार के लिए हमेशा साथ खड़े रहेंगे। इस शान्ति मार्च को समाज के कई अन्य ने भी संबोधित किया।