फिल्म पद्मावत पर सुप्रीम कोर्ट ने भाजपा सरकारों और करणी सेना की याचिका खारिज की

आईएनएन भारत डेस्क:
नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने पद्मावत फिल्म पर मध्य प्रदेश सरकार और राजस्थान सरकार की याचिका को खारिज कर दिया। मुख्य न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा ने कहा फ्रीडम ऑफ स्पीच एंड एक्सप्रेशन पर रोक नही लगाई जा सकती। पद्मावत पर प्रतिबंध लगा कर अराजक तत्वों को बढ़ावा नहीं दिया जा सकता। राज्य सरकारें कानून व्यवस्था के नाम पर किसी की फ्रीडम ऑफ स्पीच एंड एक्सप्रेशन पर रोक नही लगा सकती।

राजस्थान सरकार और मध्य प्रदेश सरकार ने अपने राज्य में फिल्म पद्मावत की रिलीज पर रोक लगा दी थी। जिसके विरोध में फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली ने हाई कोर्ट को अप्रोच किया। राजस्थान हाई कोर्ट और मध्यप्रदेश हाई कोर्ट ने फिल्म पद्मावत पर राज्य सरकारों द्वारा लगाई रोक हटा दी थी। जिसके खिलाफ दोनों राज्य सरकारें सुप्रीम कोर्ट आई थी। जहाँ दोनों सरकारों को निराशा हाथ लगी।

पिछले कुछ दिनों से संजय लीला भंसाली द्वारा निर्मित फिल्म पद्मावती खासी चर्चाओं में है।  करणी सेना इसका लगातार विरोध कर रही है। करणी सेना के अनुसार फिल्म में पद्मावती के चरित्र को गलत तरीके से पेश किया गया है। करणी सेना का दावा है कि फिल्म से राजपूतों की भावनाएं आहत हुई हैं और इसीलिए वो फिल्म पद्मावत को सिनेमाघरों में प्रदर्शित नही होने देंगे। कई दिनों से करणी सेना लगातार प्रदर्शन कर रही है। 21 जनवरी को नोएडा में भी प्रदर्शन हुए थे। जिसमें करोड़ों की संपत्ति को नुकसान पहुंचा था। तब पहली बार कुछ अराजक तत्वों को गिरफ्तार किया गया था।

फ़िल्म पद्मावत 25 को होगी रिलीज़:

फ़िल्म रिलीज़ को लेकर सभी अटकले सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद साफ हो गया। अब फ़िल्म 25 जनवरी को ही रिलीज़ होगी। फ़िल्म निर्माता भंसाली ने 25 जनवरी को फ़िल्म पद्मावत रिलीज़ करने की घोषणा की थी। उसके बाद करणी सेना और भी उग्र होकर विरोध कर रहा था।

फिल्म पद्मावती का नाम बदला:

फिल्म पद्मावती का विरोध करणी सेना के द्वारा हो रहा है। फिल्म निर्माता सहित फिल्म के अन्य मुख्य किरदारों जिसमे दीपिका पादुकोण शामिल है, को लगातार धमकियाँ मिल रही थी। इस विरोध के कारण फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली ने फिल्म पद्मावती का नाम बदल कर पद्मावत कर दिया। भंसाली के अनुसार इस फिल्म में ऐसा कुछ भी नही हैं जिससे किसी की भावना को ठेस पहुचें। यह फिल्म मालिक मोहम्मद जायसी की रचना पद्मावत पर आधारित है।