उत्तर प्रदेश में बेहाल बेरोजगार नौजवान उतरे सड़कों पर

आईएनएन भारत डेस्क:
लखनऊ। पीएम मोदी ने लोकसभा चुनाव में जनता से वादा किया था कि बेरोजगारी खत्म करेंगे। मोदी सरकार के कार्यकाल के 4 साल गुजरने वाले हैं, मगर आज भी युवा बेरोजगारी से परेशान हैं। मोदीजी खुद विदेशों की सैर सपाटा करते रहते हैं। कहा जाता हैं कि मोदीजी 24 में से निरंतर 18 घंटे काम करते हैं। मगर ये नहीं बताया जाता की 18 घंटे में कौन सा काम करते हैं, या सिर्फ दौरे का प्रोग्राम बनाते हैं।
 
ठीक उसी नक्शे कदम पर उत्तर प्रदेश के योगीजी भी चल रहे हैं। श्मशान और कब्रिस्तान के भाषणों से सत्ता तो हासिल हो गयी योगीजी को। मगर यूपी के हजारों युवाओं को सड़क पर उतार दिया योगीजी ने। इन युवाओं के पास कोई रोजगार नहीं है। रोजगार की तलाश में भटकते भटकते अब ये बेरोजगार नौजवान योगी के खिलाफ सड़क पर उतर गए हैं।
अभी कुछ दिन पहले योगीजी ने करोडो रुपये खर्च कर गोरखपुर महोत्सव बहुत ही धूमधाम से मनाया था। पिछले साल करोड़ों के दीपक फूक डाले थे। योगी के इस तरह के एक प्रोग्राम में करोडों रुपये खर्च हो रहे हैं। मगर युवाओं को हजार रुपये की नौकरी नहीं मिल पा रही हैं।