गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवानी को भी जान का खतरा?

आईएनएन भारत डेस्कः
अहमदाबादः दलित नेता और निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवानी का कहना है कि उन्हें भी वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया की तरह अपनी जान का खतरा हैं। कुछ दलित संगठनों उनके लिए जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा की मांग कर रहे हैं, जिस के बाद मेवानी का यह बयान आया है।
मेवानी का कहना है- वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया को जैसे भाजपा और आरएसएस के फासिस्ट बलों से खतरा महसूस हो रहा है और उन्हें डर है कि यह लोग उन को मार देंगे वैसे ही मुझे भी ऐसा लगता है कि मेरी भी जिन्दगी खतरे में है। मेरे सूत्रों के अनुसार, वे निश्चित रूप से मुझे खत्म करना चाहते हैं।
इससे पहले दिन में, विभिन्न दलित समूहों ने गुजरात के विभिन्न जिलों में कलेक्टरों को मेमोरेन्डम भेजे, जिसमें मेवानी के लिए जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा की मांग की गई है। जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा में आठ कमांडो सहित 11 सुरक्षाकर्मियों के कवर दिया जाता है। दलित समूहों ने मेवानी और भीम सेना के संस्थापक चंद्रशेखर (जो वर्तमान में उत्तर प्रदेश की एक जेल में बंद है) के खिलाफ मामला वापस लेने की मांग की है।