आधार कार्ड की अनिवार्यता को लेकर सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक बेंच में सुनवाई शुरू

आईएनएन भारतः
नई दिल्लीः आधार कार्ड की अनिवार्यता को लेकर सुप्रीम कोर्ट में आज से सुनवाई शुरू हो चुकी है। इस मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा जस्टिस ए के सीकरी जस्टिस ए एम खानविलकर जस्टिस दीपक चंद्रचूड़ और जस्टिस अशोक मिश्रा की संवैधानिक बेंच कर रही है।
याचिकाकर्ता के अधिवक्ता श्याम दीवान हैं। इन्होंने संवैधानिक बेंच से कहा कि आधार प्रोजेक्ट ही चुनौती के दायरे में है। प्रोजेक्ट की ना तो कोई टाइमिंग है ना ही कोई अंतिम तारीख निर्धारित की गई है। यह एक निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है। आधार की बायोमेट्रिक व्यवस्था में कई तरह की खामियां हैं। यह भरोसेमंद नहीं है। यह सिर्फ संभावनाओं के आधार पर चलता है। आधार की अनिवार्यता नागरिकों के अधिकारों की हत्या करने के बराबर है। उन्होंने यह भी कहा कि नागरिकों के संविधान को सरकार के संविधान में बदलने की कोशिश की जा रही है। श्याम दीवान ने आधार को इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए जरूरी बनाए जाने, आधार को बैंक अकाउंट और मोबाइल नंबर से लिंक करने की अनिवार्यता को लेकर भी सवाल उठाया।
हाल ही में एक रिपोर्ट छपी थी जिसमें कहा गया था कि महज 500 देकर मात्र 10 मिनट में करोड़ों आधार कार्ड की जानकारी हासिल करना संभव हो रहा है। एक अंग्रेजी अखबार द ट्रिब्यून ने तहकीकात की जिसमें इस तरह की बातें का खुलासा हुआ। तब से आधार कार्ड के डेटा लीक होने के बाद उसकी सुरक्षा को लेकर बहस अभी तक जारी है।