जिग्नेश मेवाणी भी अब ट्रोल गैंग के निशाने पर

नई दिल्ली (आईएनएन भारत) l ऊना आन्दोलन के सूत्रधार और गुजरात से निर्दलीय विधायक बने दलित युवक जिग्नेश मेवाणी पर पोस्टर और सोशल मीडिया के जरिए लगातार हमला किया जा रहा हैं। हमलावर यही नहीं रुक रहे हैं। जिग्नेश के फोटो के साथ छेड़छाड़ कर जम कर फोटोशॉप भी किया जा रहा है।

9 जनवरी को देश में दलित और मुस्लिम पर हो रहे हमलों को लेकर और भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद की रिहाई की मांग को लेकर संसद मार्ग पर एक बड़े प्रदर्शन का आयोजन किया गया है। जिसमें जिग्नेश भी शामिल होंगे।

उससे पहले दिल्ली में कुछ जगहों पर भाजपा ने पोस्टर लगा कर जिग्नेश पर हमला शुरू कर दिया है। अनुसूचित जाति मोर्चा के भाजपा उपाध्यक्ष दीपक तंवर वाल्मिकी ने एक पोस्टर लगवाया हैं जिसमें लिखा हैं कि जिग्नेश मेवाणी दलितों का नेता नहीं देशद्रोही है।

वही दूसरी तस्वीर सोशल मीडिया पर घूम रही है। जिसमें जिग्नेश के साथ जेएनयूएसयू की पूर्व उपाध्यक्ष शहला राशीद शोहरा भी और साथ में एक और शख्स भी बैठा है। तीनों साथ में बैठकर चाय की चुस्की ले रहे हैं। मगर फोटो शॉप के जरिए तीनों के हाथ में हथियार दिखाया गया है। और टेबल पर बम का जखीरा दिखाया गयाl