चारा घोटाले मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने अपना फैसला कल तक के लिए सुरक्षित रखा

आईएनएन भारत डेस्क:
बिहार। सीबीआई की विशेष अदालत ने चारा घोटाले मामले में 16 दोषियों की सजा पर आज फिर फैसला टाल दिया। सीबीआई की विशेष अदालत ने 23 दिसंबर को इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव समेत तीन राजनीतिज्ञों आईएएस अधिकारियों के अलावा पशुपालन विभाग के तत्कालीन अधिकारी कृष्ण कुमार प्रसाद, मोबाइल पशुचिकित्साधिकारी सुबीर भट्टाचार्य एवं आठ चारा आपूर्तिकर्ताओं सुशील कुमार झा, सुनील कुमार सिन्हा, राजाराम जोशी, गोपीनाथ दास, संजय कुमार अग्रवाल, ज्योति कुमार झा, सुनील गांधी तथा त्रिपुरारी मोहन प्रसाद को दोषी पाया था। इस मामले में फैसला 3 जनवरी को ही आने वाला था, मगर कोर्ट ने 3 जनवरी को को फैसला ना दे कर अगले दिन 4 जनवरी कर दिया। मगर आज भी फैसला ना सुनाते हुए तारीख अगले दिन यानी 5 जनवरी मुकर्र की गई।

कोर्ट के इस फैसले से राजद समर्थक और आम पब्लिक सोच रहे हैं की क्या वजह हैं कि कोर्ट फैसला सुनाने में इतना लेट कर रही हैं। दो दिन से एक एक दिन का डेट बढ़ा कर लालू प्रसाद यादव को परेशान कर रहा हैं। जब तक कोर्ट का फैसला नहीं आ जाता तब तक लालू प्रसाद आगे की कारवाही करने की नहीं सोच सकते। सूत्रों ने बताया की आज या बीते कल कोर्ट ने फैसला सुना दिया होता तो राजद तुरंत उपरी अदालत का दरवाजा खटखटाते। मगर यहाँ सीबीआई की विशेष अदालत ही नहीं चाहती की लालू प्रसाद को इंसाफ मिल सके।