जेएनयू में पेड़ से लटकती मिली लावारिस लाश

आईएनएन भारत डेस्क:
नई दिल्ली. दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में मंगलवार को पेड़ से लटकती मिली लाश ने हड़कंप मचा दिया। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए एम्स भेज दिया। पुलिस के मुताबिक, लाश बुरी तरह सड़ चुकी थी. इसके अलावा सोमवार को शाम JNU कैंपस में एक ड्रोन भी मिला। ड्रोन में कैमरा भी इंस्टॉल था। विश्वविद्यालय प्रशासन को जैसे ही इसकी सूचना मिली उन्होंने पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने बताया कि ड्रोन यमुना हॉस्टल के पास से मिला है और उसमें कैमरा भी लगा हुआ है. जेएनयू प्रशासन ने ड्रोन को पुलिस को सौंप दिया। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। पुलिस कई एंगल से इसकी जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि यह आंतकी साजिश भी हो सकती है। साथ ही पुलिस ने गर्ल्स हॉस्टल के पास से ड्रोन मिलने से शरारत से भी इनकार नहीं किया है। वहीं मंगलवार को तब जेएनयू कैंपस में सनसनी फैल गई, जब एक व्यक्ति की लाश पेड़ से लटकती मिली। गुजर रहे छात्रों ने वसंत विहार थाने की पुलिस को फौरन इसकी सूचना दी। पुलिस ने आत्महत्या की शंका जताई है। तफ्तीश के बाद मृतक की पहचान नजफगढ़ के रहने वाले 45 वर्षीय रामप्रकाश के रूप में की गई है। पेड़ से लटकी मिली इस लाश से जेएनयू में खलबली का माहौल बन गया। पुलिस ने बताया मृतक पेशे से ड्राइवर था। DCP (साउथवेस्ट) मिलिंद महादेव डुंब्रे ने बताया कि मृतक की आयु 40 से 45 के बीच थी और ऐसा लग रहा है कि 6-7 दिनों से लाश वहां लटकी हुई थी. मृतक के पास से एक मोबाइल फोन, आधार कार्ड, वोटर आईडी और ड्राइविंग लाइसेंस बरामद हुआ।