अब ताजमहल देखना आसान नहीं होगा, सरकार लगा रही है कड़े क़ानून

आगरा l ताज महल देखने जाने वालों के लिए एक बुरी खबर हैभारतीय पुरातत्व विभाग ने दर्शकों के प्रवेश की  सीमा निर्धारित करने की सोच रही है. अनहोनी से बचने के लिए अब हर रोज़ बस 30,000 दर्शकों को ही प्रवेश की अनुमति मिल सकती है. पहले ताज महल देखने के लिए दर्शकों की संख्या की कोई सीमा नहीं होती थी. जिस का भी दिल करे वह ताज महल देखने पहुँच जाता था. मगर अब ऐसा नहीं हो पायेगा. इतना ही नहीं क्राउड मैनेजमेंट के लिए प्रशासन तहखाने में प्रवेश और 15 साल से कम कितने बच्चें अन्दर जा सकेंगे उस का भी तय किया जायेगा. उन सारे बच्चों के लिए जीरो चार्ज टिकेट लेना ज़रूरी होगा जिस से कितने लोग अन्दर गए हैं उस का हिसाब रखा जायेगा.  

ऐसे ही नियम ताज महल देखने के लिए ट्रेन के टिकेट के लिए लगाये जायेंगे. जैसे ही 30,000 टिकेट बिक्री हो जायेगाटिकेट काउंटर बंद हो जायेगा. बिना टिकेट के कोई भी अन्दर जा नहीं पायेगा. सोमवर को भारतीय पुरातत्व विभाग की महा निर्देशक उषा शर्माकेंद्र सरकार संस्कृति विभाग के सचिव पिएल साहूआगरा डिस्ट्रिक्ट प्रशासन और सीआईएसएफ अधिकारी ने ताज महल देखने के बाद एक मीटिंग किये थेजहाँ पर ताज महल और दर्शकों की सुरक्षा के लिए एक प्रस्ताव आया. यह प्रस्ताव कब से लागू होगा वह संस्कृति मिनिस्टर महेश शर्मा मीटिंग करने के बाद घोषणा करेंगे.