पार्टी से नाराज चल रहे नितिन पटेल ने मानी अमित शाह की बात

आईएनएन भारत डेस्क:
अहमदाबाद। दो दिन से गुजरात सरकार में चल रहे ड्रामा का अंत हो गया हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के एक फोन ने ड्रामा का अंत कर दिया।
गुजरात मंत्रीमंडल में विभागों के आवंटन से उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल खुश नहीं थे। उन्होंने आत्मसम्मान की बात कह कर सरकार से अपनी नाराजगी जाहिर कर दी थी। जिसके बाद कयास लगाया जा रहा था कि गुजरात में भाजपा अल्पमत में आ जायेगी। वही हार्दिक पटेल ने भी मौके पर चौका लगाते हुए नितिन पटेल से कांग्रेस ज्वाइन करने की बात कही थी। हार्दिक ने नितिन पटेल से कहा था की आप कांग्रेस ज्वाइन कर लो, आपको मनचाहा मंत्रालय मिल जायेगा। मगर कांग्रेस और हार्दिक के मनसूबे पर पानी फेरते हुए उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने आज साफ़ तौर पर कह दिया कि वो भाजपा नहीं छोड़ रहे हैं। इसकी वजह, आज सुहब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का फोन आना बता रह हैं। नितिन ने कहा कि सुबह अमित शाह का फोन आया था। उनके सामने मैंने अपनी बात रखी हैं और उन्होंने मुझे भरोसा भी दिलाया हैं कि मुझे महत्वपूर्ण विभाग मिलेगा।
भाजपा से नाराज नितिन पटेल के लिए 1 जनवरी को नितिन समर्थक मेहसाणा बंद कर एलान कर चुके थे।