गृह राज्य मंत्री ने कहा देश में 53% बच्चें होते है यौन उत्पीड़न का शिकार

आईएनएन भारत डेस्क:
नई दिल्ली। राज्यसभा सत्र में गृह राज्य मंत्री द्वारा बुधवार को बच्चों के यौन उत्पीडन पर एक आकड़ा सौपा गया। आकड़ें में बताया गया कि देश में 53 प्रतिशत से ज्यादा बच्चें यौन उत्पीडन का शिकार होते हैं। यह आकड़ा केंद्र सरकार के एक प्रायोजित सर्वेक्षण में सामने आया हैं।
राज्यसभा में आकड़ा पेश करते हुए गृह राज्य मंत्री, हंसराज अहिर ने कहा कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने 2007 में बाल दुर्व्यवहार पर एक अध्ययन किया था, जिसमें 13 राज्यों और 13,000 से अधिक बच्चों को शामिल किया गया था। अध्ययन से पता चला है कि 53%  बच्चों में से 21.90% बाल यौन शोषण के गंभीर रूपों के शिकार होते हैं और 50.76 प्रतिशत अन्य यौन शोषण का सामना करते हैं।
अहिर ने कहा कि 50 फीसदी बच्चों को दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ता है और इस तरह के अधिकांश मामलों में किसी तरह के रिपोर्ट भी दर्ज नहीं होते।