दाढ़ी रखने के वजह से जामिया के छात्रों को NCC कैम्प से बेइज़्ज़त कर निकाला गया

आई एन एन भारत डेस्क:
नई दिल्ली। जामिया के 10 छात्रों को NCC कैंप से दाढ़ी रखने की वजह से बाहर निकाला गया। इन छात्रों का कहना है कि इनको दो ऑप्शन दिए गए या तो आप दाढ़ी कटाइये
या फिर आप कैंप से बाहर जाईये। जब इन छात्रों ने दाढ़ी कटाने से मना किया तो इन छात्रों को धक्का देकर कैंप से बाहर कर दिया गया। इन छात्रों का कहना है कि हम ये कैप पिछले 3 वर्षों से कर रहे हैं परंतु इस तरह का व्यवहार कभी नहीं किया गया।

अब ये छात्र इंसाफ की गुहार लगाते हुए धरना पर बैठे हुए हैं। इन छात्रों की मांग है कि इन को इंसाफ मिले। जो भी अधिकारी इसमें शामिल है वह माफी मांगे और भविष्य में इस तरह की कोई घटना ना घटे। जामिया छात्र इमरान चौधरी का कहना है कि भारतीय संविधान या रक्षा सेवा , पुलिस प्रशासन मे इस तरह का कोई कानुन या नियम नहीं है। यह एक भेदभाव पूर्ण घटना है। यह संविधान के साथ खिलवाड़ है तथा व्यक्तिगत स्वतंत्रता का उल्लंघन है। हम यह मांग करते हैं कि जिन छात्रों को इंसाफ मिले और जो भी अधिकारी इसमें शामिल हैं वह माफी मांगे और इनको जो कैंप का सर्टिफिकेट है। वह दिया जाए तथा इनको सम्मान के साथ NCC में रखा जाए।